Subscribe Haryana Tech YouTube Channel to get Latest Updates :-
sub now hr tech.gif
Search

रात में ढाई घंटे दहशत में रहे यात्री, दो बार प्रयास के बावजूद IGI एयरपोर्ट पर लैंड नहीं कर सका विमान


आइजीआइ एयरपोर्ट पर दो बार उतारने का प्रयास किया, लेकिन उसे नहीं उतारा जा सका।


जयपुर से इंडिगो की उड़ान संख्या 6ई-2143 ने शुक्रवार की रात करीब आठ बजे आइजीआइ एयरपोर्ट के लिए उड़ान भरी थी। उसमें करीब 140 यात्री मौजूद थे। यात्रियों ने बताया कि उड़ान भरते ही विमान में कंपन होना शुरू हो गया था। वहीं तेज आवाज भी आ रही थी।


जयपुर से आ रहे इंडिगो के विमान को तकनीकी खराबी के कारण दिल्ली में नहीं उतारा जा सका। नतीजतन विमान को वापस जयपुर ले जाया गया। इस दौरान करीब ढाई घंटे तक विमान के अंदर यात्रियों की धड़कनें थमी रहीं। जयपुर से दोबारा जब इसी विमान को भेजा गया तो आधे यात्रियों ने उड़ान को छोड़ दिया। इस संबंध में एयरलाइंस की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली।


जानकारी के मुताबिक, जयपुर से इंडिगो की उड़ान संख्या 6ई-2143 ने शुक्रवार की रात करीब आठ बजे आइजीआइ एयरपोर्ट के लिए उड़ान भरी थी। उसमें करीब 140 यात्री मौजूद थे। यात्रियों ने बताया कि उड़ान भरते ही विमान में कंपन होना शुरू हो गया था। वहीं, तेज आवाज भी आ रही थी। इससे यात्रियों में दहशत फैल गई। पायलट ने रात करीब 8.35 बजे विमान को आइजीआइ एयरपोर्ट पर दो बार उतारने का प्रयास किया, लेकिन उसे नहीं उतारा जा सका।


विमान में हो रहा था तेज कंपन:-


इसी बीच घोषणा की गई कि उड़ान को दोबारा से जयपुर ले जाया जा रहा है। वापस जाते समय भी विमान में तेज कंपन हो रहा था। नोएडा निवासी यात्री सुनील गुप्ता ने बताया कि रात करीब 10.30 बजे जयपुर पहुंचने पर यात्रियों ने राहत की सांस ली। इसके बाद ज्यादातर यात्री इस विमान से दिल्ली जाने को तैयार नहीं थे। लिहाजा एयरलाइंस कर्मियों ने काफी देर तक सुरक्षा का बहाना बनाकर उन्हें विमान से उतरने नहीं दिया।


यात्रियों ने किया जमकर हंगामा

इसे लेकर यात्रियों ने वहां जमकर हंगामा किया। इसके बाद अन्य साधन से जाने वाले यात्रियों को विमान से उतारा गया। बचे हुए यात्रियों को उसी विमान से आधी रात को दिल्ली लाया गया। यात्री राघव बंसल के मुताबिक खराबी के कारण विमान में बैठी महिलाओं और बच्चों का डर से बुरा हाल था। इस दौरान एयरलाइंस कर्मी संवेदनहीन बने रहे। यात्रियों को सही जानकारी तक नहीं दी जा रही थी।





46 views0 comments
hr tech sub.gif
sub now hr tech.gif