Subscribe Haryana Tech YouTube Channel to get Latest Updates :-
sub now hr tech.gif
Search

हरियाणा के सभी Government और Private कॉलेजों में निकले Scholarship Form || Last Date 31 March 2021


एससी, बीसी, ओबीसी स्टूडेंट्स कर सकेंगे आवेदन

हायर एजुकेशन में पढ़ाई कर रहे स्टूडेंट्स को पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप लेने के लिए पीएमएस पोर्टल पर आवेदन करना होगा। इसके लिए डायरेक्टर ने सभी कॉलेज प्रिंसिपल को लेटर जारी किया है। इसके बारे स्टूडेंट्स को जागरूक करने के लिए कहा है। प्रिंसिपल डॉ. एचएस कंग का कहना है कि इसके बारे में विद्यार्थियों को बताया जा रहा है। डायरेक्टर की ओर से भेजे लेटर में बताया गया है कि वर्ष 2020-21 के लिए सभी प्रकार की स्कॉलरशिप के लिए विद्यार्थियों को पोर्टल पर आवेदन करना होग।

अभी तक यह सुविधा नहीं थी। मैनुअल ही फार्म भरे जा रहे थे। इससे कई बार फार्म गुम हो जाते थे। नए सत्र से नई व्यवस्था की गई है। पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप एससी, बीसी, ओबीसी स्टूडेंट्स के लिए है। इसके लिए हायर एजुकेशन ने पोर्टल तैयार किया है। प्रदेश के सभी स्टूडेंट्स पोर्टल पर ही स्कॉलरशिप के लिए आवेदन करेंगे। इसके लिए लिंक जारी किया है। हायर एजुकेशन की ओर से जारी harchhatravratti.highereduhry.ac.in पोर्टल पर आवेदन किया जा सकता है। इसे ओपन कर दिया गया है। विद्यार्थी अपनी सुविधा अनुसार पोर्टल पर आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए 31 मार्च का समय दिया गया है। 31 तक सभी पात्र स्टूडेंट पोर्टल पर छात्रवृत्ति के लिए आवेदन कर दें। इसके लिए जिम्मेदारी प्रिंसिपल को दी गई है। आवेदन करते समय कैटेगरी का ध्यान स्टूडेंट्स को रखना है।

Steps to Apply:-



सभी की कैटेगरी अलग हैं

अगर किसी ने गलत कैटेगरी में आवेदन किया तो उसका फार्म मान्य नहीं होगा। इसलिए सबमिट करने से पहले अच्छे से चेक करना जरूरी है। वहीं, स्कॉलरशिप के लिए आवेदन करने के लिए परिवार पहचान पत्र जरूरी है। इसके बिना आवेदन नहीं होगा।

Required Documents:-


निजी स्कूलों को बोर्ड पर देना होगा फीस का ब्यौरा

निजी स्कूलों को फीस संबंधी ब्यौरा स्कूल के नोटिस बोर्ड पर देना होगा। साथ ही अगले सत्र के लिए फीस बढ़ाने के लिए 31 मार्च तक फार्म-6 शिक्षा विभाग की साइट पर ऑनलाइन भरना होगा। जो स्कूल संचालक फार्म नहीं भरेगा वह फीस भी नहीं बढ़ा सकेगा। उसको विभाग नोटिस भी जारी करेगा। जिले में 490 निजी स्कूल हैं। नोटिस बाेर्ड पर दिए जाने वाले ब्यौरे काे लेकर विभागीय अधिकारी भी स्कूलों का निरीक्षण करेंगे। स्कूलों को फार्म में अपनी आय, खर्च, बच्चों को दी जा रही सुविधाएं, स्टाफ सैलरी की जानकारी देनी है। इसमें बताया जाना है कि वें अभी विद्यार्थियों से कितनी फीस ले रहे हैं। किस आधार पर कितनी फीस बढ़ाना चाहते हैं। वैसे तो यह फार्म हर साल भरना होता है। लेकिन अधिकतर स्कूल फार्म नहीं भरते हैं। फार्म-6 ऑनलाइन अप्लाई करने के बाद प्रिंट निकालकर हार्ड कॉपी जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में जमा करानी हाेगी।

For more information contact us at :-

+91 9050873736

96 views0 comments
hr tech sub.gif
sub now hr tech.gif