Subscribe Haryana Tech YouTube Channel to get Latest Updates :-
sub now hr tech.gif
Search

चोरी या गुम हुए स्मार्टफोन को खोजने के तीन तरीके, मुसीबत में आ सकते हैं काम


भारत में गुम या चोरी हुए स्मार्टफोन को खोजना अपने आप में बहुत बड़ा काम है। अभी तक ऐसी कोई सुविधा नहीं है जिसके जरिए आसानी से फोन को खोजा जा सके। पुलिस बहुत ही कम मामलों में फोन को सर्विलांस पर डालती है। यदि आपका स्मार्टफोन खो जाए अथवा कोई चुरा ले, तो कुछ ऐसी ट्रिक्स हैं, जिनकी मदद से आप अपना फोन ट्रेस कर सकते हैं। स्मार्टफोन में हमारी जानकारी, जैसे- बैंक अकाउंट डिटेल्स, पर्सनल फोटो, वीडियोज, डॉक्यूमेंट्स और कॉन्टेक्ट नबर्स आदि सेव होते हैं। ऐसे में स्मार्टफोन का चोरी होना मतलब हमारी जानकारियों का चोरी होना है। इसके लिए आपको इन तरीकों का प्रयोग करना चाहिए।



एंटी थेफ्ट अलार्मः  इस एप को अपने फोन में डाउनलोड करने के बाद एक्टिवेट कर लें। इसके बाद यदि कोई और आपका मोबाइल छूने की कोशिश करेगा, तो मोबाइल में तेज अलार्म बजेगा। यदि किसी भीड़-भाड़ वाले इलाके में कोई फोन चोरी करने की कोशिश करेगा, तो आपको तुरंत पता चल जाएगा।


लुकआउट सिक्योरिटी एंड एंटीवायरसः इस एप में गूगल मैप की मदद से लोकेशन का पता लगाया जा सकता है। यदि चोरी के बाद कोई आपका फोन स्विच ऑफ कर देता है, तो आपको फोन की आखिरी लोकेशन पता चल जाएगी। इससे आपको अपने फोन को ढूंढने में आसानी हो सकती है।


थीफ ट्रैकरः यह एप चोरी हुए फोन को ढूंढने में मददगार है। फोन चोरी होने के बाद इसके जरिए आप चोरी करने वाले व्यक्ति की पूरी जानकारी ढूंढ सकते हैं। इसमें एक खास फीचर भी दिया गया है। फोन से छेड़छाड़ होने पर यह फीचर आपको छेड़छाड़ करने वाले की स्वतः फोटो क्लिक करके लोकेशन के साथ मेल भेज देगा।







4 views0 comments
hr tech sub.gif
sub now hr tech.gif